हुआ कुछ ऐसा की गवां दी सारी इज्जत….प्रेमी के साथ कार में घुमने गई 10वीं क्लास की टॉपर!

कहते हैं अगर किसी के साथ अच्छा या बुरा होना होता है तो हो ही जाता है. फिर इंसान कहीं भी चला जाए कुछ ऐसा ही हुआ छत्तीसगढ़ बोर्ड की दसवीं की टॉपर नंदनी के साथ. ये नाबालिग कुछ दरिंदों की बुरी नीयत का शिकार हो गई, अब आप कुछ भी कहें लेकिन ऐसा हुआ कि एक शख्स ने अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर उसका अपहरण किया और उसके साथ दुष्कर्म कर छोड़ दिया. अब कहने वाले उस लड़की को कह सकते हैं कि प्रेमी के साथ कार में घुमने गई 10वीं क्लास की टॉपर ने मजे किये होंगे क्योंकि बोलने वाले के मुंह नहीं रोके जा सकते. खैर चलिए बताते हैं आपको पूरी घटना..

ये घटना 19 मई की है जब छत्तीसगढ़ शहर भिलाई के पास मुरमुंदा गांव में रहने वाली नंदिनी (17 वर्षीय) अपनी दीदी के पास बिलासपुर संभाग घूमने के लिए गई थी. गर्मी की छुट्टियां बिताने के लिए नंदिनी के माता-पिता ने उसे वहां भेजा था. विनोद राजपूत (25) नाम का एक लड़का नंदिनी के पीछे दो सालों से लगा हुआ था और जब उसे पता चला तो उसने अपने दोस्तों के साथ प्लान बनाया और पहुंच गया बिलासपुर. वहां वो अपने दोस्तों शैलेंद्र कुमार पटेल (22) और रविंद्र कुमार यादव (24) के साथ शाम के करीब 7 बजे पहुंचा और नंदिनी को किसी बहाने से बाहर बुलाकर उसे कार में बिठा कर ले गए. उन्होंने उसका अपहरण किया और अपने गांव ले गया जहां कोरबी के पहले गांव जडगा में शैलेश और रविंद्र को उतारा और उसके बाद आगे जाकर गाड़ी खड़ी की फिर उसका बलात्कार कर दिया. इसके बाद नंदिनी को उसके घर के पास जाकर छो़ड़ दिया. 10वीं की टॉपर रही नंदिनी अपनी दीदी के यहां घूमने गई थी लेकिन वो बेचारी दुष्कर्म का शिकार हो गई.

नंदिनी के पिता ने जब पुलिस को इस बारे में बताया तो पुलिस वालों ने 10 दिन के अंदर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. घटना के 10 दिन बाद आरोपियों की गिरफ्तारी कर पुलिस ने मामले का खुलासा किया और उनके खिलाफ धारा 363, 366, 376, 34,5 (b), 6 POSCO Act. के तहत केस दर्ज किया है. तीनों आरोपियों को मंगलवार को न्यायिक अभिरक्षा जेल भेज दिया. हालांकि उस लड़की के मेडिकल रिपोर्ट के आने के बाद उनके खिलाफ सजा निर्धारित की जाएगी. नंदनी ने उन तीनों को पहचान लिया है और उसके बयान के बाद ही आरोपियों को ढूंढना शुरु किया गया था और उसने तीनों पर बलात्कार का आरोप लगाया है.

जब नंदिनी के पिता से मीडिया ने पूछा कि क्या नंदिनी आगे की पढ़ाई करेगी तो उन्होंने कहा कि वो आगे की पढा़ई करेगी क्योंकि इन घटना में उसकी कोई गलती नहीं है. इससे उस पीड़ित को बहुत हौसला मिलेगा और ऐसा होना भी चाहिए किसी की गलती किसी को नहीं देनी चाहिए. इस मामले में जनता के मुताबिक उन आरोपियों को वही सजा मिलनी चाहिए जो सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में नाबालिग से बलात्कार करने पर सजा निर्धारित की है.